राजनीति समाचार विवरण  
 Mail to a Friend Print Page   Share This News Rate      
Save This Listing     Stumble It          
 


 लोकसभा में हंगामे की वजह से स्पीकर ने नहीं स्वीकारा अविश्वास प्रस्ताव... (Mon, Mar 19th 2018 / 15:08:11)

तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) और एआईएडीएमके सांसदों ने सोमवार को लोकसभा में हंगामा किया। इस वजह से कार्यवाही को पहले 12 बजे और उसके बाद दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया। इससे पहले, टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए तीन नोटिस दिए थे। राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए तैयार है। संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने कहा, "हम अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार हैं, क्योंकि हमारे पास पूर्ण बहुमत है।" इससे पहले शुक्रवार को भी दोनों दलों के अविश्वास प्रस्ताव सदन नहीं चलने की वजह से पेश नहीं हो सके थे।

तीन अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस मिले

- लोकसभा सचिवालय को तीन अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस मिले हैं। दो टीडीपी और एक वाईएसआर कांग्रेस ने दिया है। यदि सदन चलता है और सदस्यों की संख्या पूरी रहती है तो स्पीकर प्रश्नकाल के बाद अविश्वास प्रस्ताव को लाने पर विचार कर सकती हैं।

- टीडीपी ने अपने सांसदों के लिए व्हिप जारी कर बजट सेशन के अंत तक मौजूद रहने को कहा है। पार्टी के सांसद आरएम नायडू ने कहा, "हम अविश्वास प्रस्ताव के लिए सभी पार्टियों के सपोर्ट लेने के जा रहे हैं। अब सभी पार्टियों की जिम्मेदारी है कि वे हमें सहयोग करें। हम बहस के लिए ज्यादा से ज्यादा समर्थन चाहते हैं। हमारी कोशिश सरकार गिराने की नहीं है।"

- उधर, शिव सेना सांसद संजय राउत ने कहा- "हम वेट एंड वॉच करेंगे। हम देखेंगे कि स्पीकर अविश्वास प्रस्ताव को स्वीकार करती हैं या नामंजूर कर देती हैं। टीडीपी के अपने राज्य के मुद्दे हैं और हम उनका स्वागत करते हैं। अब तक हमने कुछ भी तय नहीं क्या है। प्रस्ताव पर उद्धव ठाकरे तय करेंगे।"

- शिव सेना सांसद अरविंद सावंत ने कहा, "हम विपक्ष के साथ नहीं है, इसका मतलब ये नहीं है कि हम सरकार के साथ हैं। अविश्वास प्रस्ताव में न हम सरकार के साथ जा रहे हैं और न ही विपक्ष के साथ। हम तटस्थ रहेंगे।"

चार साल में पहली बार मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव

1) कौन लाया है?

-2014 में मोदी के सत्ता में आने के बाद पहली बार कोई पार्टी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाई है। अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस टीडीपी के टी. नरसिम्हन और वाईएसआर कांग्रेस के वाई वी सुब्बा रेड्डी ने दिया है। शुक्रवार को इसे स्पीकर सुमित्रा महाजन ने स्वीकार नहीं किया और सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी थी। सुमित्रा महाजन ने कहा था- "प्रस्ताव को सदन के समक्ष रखने के लिए वह बाध्य है, लेकिन इसके लिए सदन को व्यवस्थित होना चाहिए। सदन का जो माहौल है, उसमें उनके लिए प्रस्ताव का समर्थन और विरोध करने वाले सदस्यों की गिनती करना संभव नहीं है।"

2) क्यों लाया जा रहा है?

-टीडीपी आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रही है। केंद्र सरकार का कहना है कि वह विशेष पैकेज देने को तैयार है। इसी से नाराज टीडीपी केंद्र सरकार और एनडीसे अलग हो गई है। उधर, वाईएसआर कांग्रेस राज्य में अपनी साख बनाने के लिए पहले ही अविश्वास प्रस्ताव लाने की कोशिश में है।

3)कैसे लाते हैं अविश्वास प्रस्ताव?

- संसद में सरकार के खिला‌फ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए कम से कम सदन के 50 सदस्यों के समर्थन की जरूरत होती है। टीडीपी नेता सीएम रमेश ने कहा था, “सोमवार तक हम अलग-अलग पार्टियों के 54 सांसदों से हस्ताक्षर ले आएंगे और फिर प्रस्ताव को और दमदार तरीके से आगे बढ़ाया जाएगा।”

- अगर वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी के सांसद दोनों भी अविश्वास प्रस्ताव के लिए समर्थन दे दें तो भी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जा सकता, क्योंकि जहां टीडीपी के पास 16 सांसद हैं तो वहीं वाईएसआर कांग्रेस के पास 9 सांसद हैं। दोनों को मिलाकर आंकड़ा सिर्फ 25 पहुंचता है।

4)कांग्रेस का रुख साफ नहीं

- कांग्रेस ने फिलहाल अपना रुख साफ नहींं किया है। हालांकि, मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के मामले में टीडीपी के साथ कांग्रेस, एआईएमआईएम और लेफ्ट पार्टियां दिख रही हैं। कांग्रेस के पास इस वक्त 48 सीटें हैं। वहीं सीपीआई के पास 9 और एआईएमआईएम के पास भी 1 सीट है।

5)सरकार को होगा नुकसान?

-एनडीए में दल- 56 हैं। कुल 314 सांसद हैं। स्पीकर सुमित्रा महाजन समेत बीजेपी के 275 सांसद हैं। लोकसभा में कुल सीट 540 हैं। बहुमत के लिए 271 आंकड़ा चाहिए। संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने कहा था , "हम हर चीज का सामना करने के लिए तैयार हैं। हमने हमेशा विपक्ष से बैंकिंग अनियमितताओं, विश्वास या अविश्वास प्रस्ताव समेत सभी मुद्दे पर चर्चा के लिए संसद को चलने में सहयोग करने के लिए कहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरे देश को भरोसा है। सदन के पास भी पूर्ण विश्वास है, इसलिए कोई समस्या नहीं है। हम पूरी तरह से आश्वस्त हैं।"

6) अभी लोकसभा की स्थिति क्या है?

कुल सीट: 545

कुल सीट: 545

 
पार्टी सीट
बीजेपी 275
कांग्रेस 48
एआईएडीएमके 37
टीएमसी 34
बीजेडी 20
शिवसेना 18
टीडीपी 16
टीआरएस 11
सीपीएम 09
वाईएसआरएस कांग्रेस 09
समाजवादी पार्टी 07
अन्य 56
खाली 05
कुल 545

 
7newsindia.com
 
समान समाचार  
live tv
Submit Your News
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
7newsindia.com
 
राज्य समाचार  
उत्तर प्रदेश गुजरात
छत्तीसगढ़ जम्मू और कश्मीर
दिल्ली बिहार
मध्य प्रदेश महाराष्ट्र
 
 
समाचार चैनल  
राष्ट्रीय समाचार मध्य प्रदेश
राजनीति खेल खबर
स्वास्थ्य कानून-अपराध
पंचांग-पुराण प्रेम ग्रन्थ
स्ट्रिंग आपरेसन ऐतिहासिक धरोहर
सिंहस्थ-कुंभ प्रशासनिक
सम्पादकीय प्रतिभा -सम्मान
छत्तीसगढ़ पब्लिक मीडिया मंच
रीवा सम्भाग लेख- कविता
मनोरंजन धर्म -प्रथा
योग -व्यायाम बिहार
झारखंड महाराष्ट्र
जोक्स उत्तर प्रदेश
 
पंचांग-पुराण   
राशिफल अंक राशि
शुभ पंचांग जीने की राह
आस्था प्रवचन
हस्तरेखा वास्तु
रत्न फेंग शुई
कुंडली विशेष दिवस
 
राशिफल   
 
 
 
 
होम  | कानून-अपराध  | प्रेम ग्रन्थ  | पब्लिक मीडिया मंच  | प्रतिभा -सम्मान  | सम्पादकीय  | योग -व्यायाम  | ऐतिहासिक धरोहर  | राष्ट्रीय समाचार  | लेख- कविता  | झारखंड  | स्ट्रिंग आपरेसन  | जोक्स  | स्वास्थ्य  | रीवा सम्भाग  | पंचांग-पुराण  | प्रशासनिक  | बिहार  | उत्तर प्रदेश  | धर्म -प्रथा  | छत्तीसगढ़  | खेल खबर  | सिंहस्थ-कुंभ  | महाराष्ट्र  | राजनीति  | मनोरंजन  | मध्य प्रदेश  | हिमाचल प्रदेश  | पंजाब  | अरुणाचल प्रदेश  | मणिपुर  | तेलंगाना  | बिहार  | छत्तीसगढ़  | गोवा  | उत्तराखण्ड  | उत्तर प्रदेश  | राजस्थान  | दिल्ली  | असम  | पश्चिम बंगाल  | ओडिशा  | तमिलनाडु  | मेघालय  | जम्मू और कश्मीर  | केरल  | आन्ध्र प्रदेश  | महाराष्ट्र  | मध्य प्रदेश  | कर्नाटक  | हरियाणा  | झारखंड  | मिज़ोरम  | गुजरात  | त्रिपुरा  | पुदुच्चेरी[b]  | नागालैण्ड  | सिक्किम  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें  | Live टीवी
7newsindia.com Copyrights 2016-2017. All rights reserved. Designed & Developed by : 7newsindia.com
 
Hit Counter